Khetibaadi tips:- इजराइल दूतावास में कृषि विशेषज्ञ उरी रूबिन्सटीन व परियोजना अधिकारी डॉ. ब्रह्मदेव ने किसानों को दिए फूल उत्पादन के टिप्स

Join WhatsApp Join Group
Like Facebook Page Like Page

Khetibaadi tips, इजराइली कृषि विशेषज्ञ उरी रूबिन्सटीन

झज्जर,24 फरवरी। निकटवर्ती गांव मुनीमपुर में पुष्प एवं बीज उत्पादन उत्कृष्टता केन्द्र का जायजा लेने के लिए इजराइली कृषि विशेषज्ञ उरी रूबिन्सटीन पहुंचे,जहां बागवानी विभाग के अधिकारियों ने उनका स्वागत किया और उत्कृष्टता केंद्र की विस्तार से जानकारी सांझा की।

Khetibaadi tips - इजराइली कृषि विशेषज्ञ उरी रूबिन्सटीन
Khetibaadi tips – इजराइली कृषि विशेषज्ञ उरी रूबिन्सटीन

इस दौरान उरी रूबिन्सटीन और बागवानी विभाग के परियोजना अधिकारी डॉ. ब्रह्मदेव ने पुष्प एवं बीज उत्पादन तकनीकी उत्कृष्टता केन्द्र में चल रही गतिविधियों की समीक्षा की।

 

उल्लेखनीय है कि उरी रुबिन्सटीन नई दिल्ली में इजराइल दूतावास में कृषि अटैचे के रूप में शामिल हुए हैं जो भारत-इजराइल कृषि परियोजना का नेतृत्व करेंगे।

 

बागवानी विशेषज्ञ ने केन्द्र पर बने संरक्षित ढांचे व हाई टेक नर्सरी का गहनता से निरीक्षण किया। उरी रूबिन्सटीन ने केन्द्र के बागवानी अधिकारियों को नेट हाउस, पोली हाउस में विभिन्न फसलों की पैदावार को आधुनिक तकनीकी के माध्यम से बढाने के तरीके बताए, केन्द्र पर चल रही गतिविधियों की सराहना की ।

 

उन्होंने किसानों के लिए जागरूकता कार्यकम चलाने को कहा ताकि किसानों की आय को बढ़ाया जा सके।

इस बीच विभाग के डॉ. सुरेश चंद, विषय वस्तु विशेषज्ञ, डॉ. हेमन्त सैनी, विषय वस्तु विशेषज्ञ ने केंद्र का संरक्षित ढांचा, हाई-टेक नर्सरी व केन्द्र पर चल रहे अन्य विकास कार्यों के बारे में विस्तृत जानकारी दी।

Khetibaadi tips - इजराइली कृषि विशेषज्ञ उरी रूबिन्सटीन
Khetibaadi tips – इजराइली कृषि विशेषज्ञ उरी रूबिन्सटीन

उन्होंने बताया कि केन्द्र पर बनी हाई-टेक नर्सरी में किसानों के लिए स्वस्थ एवं उच्च किस्म की सब्जियों की पौध अनुदान राशि पर तैयार की जाती है ताकि किसान कम मूल्य में उच्च गुणवत्ता की फसल तैयार कर सके। इसके साथ-साथ केन्द्र पर समय-समय पर चलाए जाने वाले साप्ताहिक व एक दिवसीय प्रशिक्षण के बारे में भी अवगत कराया गया.

Read More  Viral video: हिम्मत है तो मारो...' शिक्षिका लेट पहुंची स्कूल, प्रिंसिपल ने पहले की पिटाई, फिर फाड़ डाले कपड़े

 

Also read reaking update:- पहले मुगलों से लड़े और अब इस युग के तानाशाह से लड़ रहे है, रमेश दलाल

 

किसानों को फूल उत्पादन की उन्नत तकनीकों से अवगत कराया जाता है। उन्होंने केन्द्र की किसान हितैषी योजनाओं व गतिविधियों के बारे में अवगत कराया। उल्लेखनीय है कि पूर्व कृषि मंत्री ओमप्रकाश धनखड़ ने क्षेत्र के किसानों की आय बढ़ाने के लिए मुनिमपुर गांव में फूल एवं बीज उत्पादन तकनीकी उत्कृष्टता केन्द्र की स्थापना की थी। किसानों ने बताया कि यह केंद्र खुलने से क्षेत्र के किसानों को काफी लाभ हुआ है।

 

इस अवसर पर उद्यान विभाग के उप-निदेशक डॉ. दीपक धत्तरवाल, केन्द्र के इंचार्ज डॉ. सुरेश चंद सहित विभागीय अधिकारी और प्रगतिशील किसान उपस्थित थे।

 

 

टोहाना, 25 फरवरी।

गांव के विकास के लिए प्रस्ताव भेजे जनप्रतिनिधि विकास एवं पंचायत मंत्री ने सरपंचों से नौ सूत्री कार्यक्रम पर जोर देने को कहा

प्रदेश के विकास एवं पंचायत मंत्री देवेंद्र सिंह बबली ने कहा कि सरकार सरपंचों के साथ मिलकर गांव के विकास कार्य करवाने के लिए कृतसंकल्प है। ग्राम पंचायतों को विकास के लिए ग्रांट दी गई है।

 

प्रदेश के बजट में भी ग्रामीण विकास के लिए अनेक योजनाओं की शुरुआत की घोषणाएँ हुई है। जनप्रतिनिधि नौ सूत्री कार्यक्रमों के प्रस्ताव बनाकर भेजे ताकि उनपर काम शुरू करवाया जा सके। पंचायत मंत्री से बिढ़ाई खेड़ा के आवास पर रविवार को टोहाना खंड के सरपंचों का प्रतिनिधिमंडल विकास कार्यों के लिए मिलने आया हुआ था।

 

कैबिनेट मंत्री देवेंद्र बबली ने कहा कि सरकार का सपना है कि गांवों को शहरों की तर्ज पर विकसित करना है। उन्होंने कहा कि सरकार 9 सूत्रीय कार्यक्रमों को लेकर आगे बढ़ रही है।

Read More  PM Modi Oath Ceremony: फिल्म स्टार शत्रुघ्न सिन्हा ने पीएम मोदी पर को कही बड़ी बात.. देखे viral video

 

गांवों में जिम, लाइब्रेरी, महिला संस्कृति केंद्र, कम्युनिटी सेंटर, स्ट्रीट लाइट, सीसीटीवी कैमरा, कूड़ा प्रबंधन, ग्रे वाटर मैनेजमेंट और अन्य मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध करवाई जा रही हैं।

 

उन्होंने जनप्रतिनिधियों से कहा कि वे इसके जल्द से जल्द प्रस्ताव बनाकर भेजे। कैबिनेट मंत्री देवेन्द्र सिंह बबली ने कहा कि ग्रामीण विकास पर फोकस रखते हुए पंचायती राज संस्थान के जन प्रतिनिधि सक्रिय रूप से अपनी जिम्मेदारी निभाएं।

 

उन्होंने कहा कि जन प्रतिनिधि ग्रामीणों की सांझेदारी के साथ प्राथमिकता के आधार पर गांव में विकास संबंधी प्रस्ताव बनाकर भेजें। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार गांवों में भी शहरों की तर्ज पर सभी मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध करवाने के लिए कृतसंकल्प है।

 

उन्होंने सभी सरपंचों को आश्वासन दिया कि उनके गांवों में विकास के पहिये को किसी भी सूरत में रुकने नहीं दिया जाएगा और सरकार द्वारा गांवों का विकास करने में उन्हें भरपूर सहयोग दिया जाएगा।

 

उन्होंने कहा कि क्षेत्र वासियों ने हमेशा विकास व नीतियों पर भरोसा जताया है और इसी भरोसे के अनुरुप गांवों में योग्य उम्मीदवारों को पंच-सरपंच के लिए चुना है।

 

विकास एवं पंचायत मंत्री देवेंद्र सिंह बबली ने कहा कि पंचायती राज संस्थाओं के विकास कार्यों में ई-टेंडरिंग सिस्टम बहुत पारदर्शी और अच्छा है।

 

वर्तमान ई-टेंडरिग प्रणाली लागू होने से विकास कार्यों को करवाने में पूरी पारदर्शिता आई है और सभी सरपंचों के लिए ज्यादा फायदेमंद साबित हो रही है। जनप्रतिनिधि होने के नाते जनता के प्रति अपनी जिम्मेवारी समझें और गांव के विकास कार्य पारदर्शिता से करवाएं।

 

बने रहे आप हमारी वेबसाइट Esmachar के साथ. आपको हरियाणा ही नहीं बल्कि सभी महत्वपूर्ण सूचनाओं से हम रूबरू कराने के लिए सबसे पहले तयार है. चाहे खबर कोई भी हो. सरकारी योजनाए, क्राइम, Breaking news, viral news, खेतीबाड़ी, स्वास्थ्य.. सभी जानकारियों से जुड़े रहने के लिए हमारे whatsapp ग्रुप को जॉइन जरूर करें.

Read More  Success Story: खेड़ी के इस किसान ने जैविक खेती कर बनाई पहचान, कम लागत में बंपर मुनाफा

Raman

Ramandeep Singh village ramgarh sirsa (haryana)

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button