Israel Hamas Gaza war:- 70 से ज्यादा बंधकों की संख्या, अमेरीका उठाने जा रहा ये कदम?

Breaking news

Join WhatsApp Join Group
Like Facebook Page Like Page

Israel Hamas Gaza war, हमास ने दावा किया है कि ग़ज़ा पट्टी में बंधक बनाए गए सात लोगों की मौत हो गई है।हमास ने कहा है कि इन बंधकों की मौत इसराइली बमबारी की वजह से हुई है।

Israel Hamas Gaza war
Israel Hamas Gaza war

इसमें उसके भी कुछ लड़ाके मारे गए हैं। हमास ने कहा है कि मारे गए बंधकों की संख्या 70 पार कर सकती है।

ये साफ नहीं है कि जिन सात बंधकों की मौत का दावा किया जा रहा है वो पहले ही मारे जा चुके 31 बंधकों में शामिल हैं या नहीं। इसराइल की ओर से इस बारे में कोई टिप्पणी नहीं आई है और न ही हमास ने कोई पुख्ता सुबूत पेश किया है।

Israel Hamas Gaza war
Israel Hamas Gaza war

हमास ने 7 अक्टूबर 2023 को दक्षिणी इसराइल पर हमला किया था और बंदूक़ की नोंक पर 253 लोगों को बंधक बना लिया था. इसराइल के मुताबिक़ हमास के इस हमले में उसके 1200 लोग मारे गए हैं।

Israel Hamas Gaza war, इसराइल ने इसके ख़िलाफ़ ज़ोरदार कार्रवाई की थी।उसने बड़े पैमाने पर हमास के ठिकानों पर बमबारी की थी. हमास संचालित स्वास्थ्य मंत्रालय का दावा है कि इसराइली हमले में ग़ज़ा में अब तक 30 हजार फ़लस्तीनी नागरिक मारे गए हैं।

 

Israel Hamas Gaza war
Israel Hamas Gaza war

नवंबर में हमास ने अस्थायी युद्ध विराम समझौते के तहत 105 इसराइली बंधकों को छोड़ा था. इसके बदले में 240 फ़लस्तीनी क़ैदी छोड़े गए थे।

 

गाजा में मदद पहुंचाएगा। (Israel Hamas Gaza war) 

इधर, इजराइल-हमास जंग के बीच पहली बार अमेरिका गाजा में मदद पहुंचाएगा। अमेरिकी सेना प्लेन के जरिए गाजा में खाने के पैकेट गिराएगी। खाना लेने पहुंचे फिलिस्तीनियों पर फायरिंग के बाद अमेरिकी ने यह फैसला लिया है।

Read More  Weather forecast: मौसम विभाग ने 29 मई तक ज़ारी किया अलर्ट

 

Also Read आज का राशिफल:- किन परिस्तिथियों का होगा सामना जाने आज का राशिफल 

 

Breaking news 

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने शुक्रवार को कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे और महासचिव जयराम रमेश को क़ानूनी नोटिस भेजा है।

गडकरी का कहना है कि दोनों ने उनके बारे में सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म एक्स पर गुमराह करने और मानहानि करने वाली खबरें शेयर की हैं।

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक़ गडकरी के वकील बालेंदु शेखर ने कहा कि उनके मुवक्किल एक्स पर अपने बारे में कांग्रेस की ओर से शेयर किए गए कंटेंट देख-सुन कर हैरान हैं।उनके वकील ने कहा कि खड़गे और रमेश ने एक वेब पोर्टल पर प्रसारित गडकरी के इंटरव्यू के एक टुकड़े को जानबूझ कर पोस्ट किया।

कोविड-19 से जुड़े इस वीडियो क्लिप को बगैर संदर्भ और शब्दों के मायने के शेयर किया गया।नोटिस में कहा गया है कि ‘जनता की नज़रों में गडकरी के प्रति भ्रम, सनसनी और बदनामी पैदा करने के एकमात्र इरादे और गुप्त उद्देश्य से एक कुटिल काम किया गया है।

इसमें कहा गया है कि ये भारतीय जनता पार्टी की एकजुटता में दरार पैदा करने का एक निरर्थक प्रयास भी है,जो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में आगामी आम चुनाव में लोगों का विश्वास जीतने के लिए तैयार है।

 

Also Read हरियाणा मुख्यमंत्री और ग्रह मंत्री की हत्या का व्हाट्सप्प SMS हुआ viral

 

Sirsa breking news

सीआईए सिरसा पुलिस की बड़ी कार्रवाई लाखों रुपयों की 54 किलोग्राम डोडा पोस्त के साथ गाड़ी सवार एक नशा तस्कर काबू।

सिरसा— पुलिस अधीक्षक विक्रांत भूषण के नेतृत्व में जिला भर में मादक पदार्थ तस्करों के खिलाफ चलाए जा रहे विशेष अभियान के तहत कार्रवाई करते हुए जिला की सीआईए सिरसा पुलिस ने ऐलनाबाद थाना क्षेत्र के गांव पोहड़का क्षेत्र से गाड़ी सवार एक व्यक्ति को लाखों रुपए की 54 किलोग्राम डोडा पोस्त के साथ काबू किया है।

Read More  Aaj ka rashifal 13 june: मेष, धनु और कुंभ राशि वालों को मिलेगा धन लाभ, पढ़ें दैनिक राशिफल

इस संबंध में जानकारी देते हुए सीआईए सिरसा प्रभारी इंस्पेक्टर धर्मवीर सिंह ने बताया कि गिरफ्तार किए गए व्यक्ति की पहचान प्रहलाद सिंह पुत्र मनीराम निवासी चिलकनी ढाब, जिला सिरसा के रूप में हुई है।

उन्होंने बताया कि पुलिस ने डोडा पोस्त तथा गाड़ी को कब्जे में लेकर काबू किए गए आरोपी के खिलाफ मादक पदार्थ अधिनियम के तहत ऐलनाबाद थाना में अभियोग दर्ज कर मौका से फरार हुए दूसरे व्यक्ति की तलाश शुरू कर दी है। सीआईए प्रभारी ने बताया कि स्टाफ के सहायक उप निरीक्षक बजरंग के नेतृत्व में सीआईए की एक पुलिस टीम गश्त व चेकिंग के दौरान ऐलनाबाद थाना क्षेत्र के गांव पोहडका क्षेत्र में मौजूद थी।

उन्होंने बताया कि इसी दौरान गाड़ी सवार दो व्यक्ति आए और पुलिस पार्टी को सामने देखकर मौके से भागने का प्रयास किया।

उन्होंने बताया कि पुलिस पार्टी ने गाड़ी समेत एक आरोपी प्रहलाद को काबू कर लिया जबकि दूसरा साथी अंधेरे का फायदा उठाकर मौका से फरार हो गया। राजपत्रित अधिकारी की मौजूदगी में नियमानुसार गाड़ी की तलाशी लेने पर गाड़ी से लाखों रुपए की 54 किलोग्राम डोडा पोस्त बरामद हुई।

सीआईए प्रभारी ने बताया कि प्रारंभिक पूछताछ में पता चला है कि उक्त डोडा पोस्त नीमच, मध्य प्रदेश से लाया गया था और उसे ऐलनाबाद क्षेत्र में सप्लाई किया जाना था ।

सीआईए प्रभारी धर्मवीर सिंह ने बताया कि गिरफ्तार किए गए आरोपी को अदालत में पेश कर रिमांड हासिल किया जाएगा और रिमांड अवधि के दौरान आरोपी से डोडा पोस्त तस्करी से जुड़े अन्य लोगों के बारे में जानकारी हासिल कर उनके खिलाफ भी कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

Read More  Kisan Protest: आंदोलन के कारण रेल यातायात प्रभावित, ये रेल मार्ग बंद

Raman

Ramandeep Singh village ramgarh sirsa (haryana)

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button