Weather forecast, क्या ओलावृष्टि से हुवे नुकसान की सरकार करवाएगी भरपाई?

INLD से लेकर AAP पार्टी के नेता उठा रहे किसानो के लिए मांगे

Join WhatsApp Join Group
Like Facebook Page Like Page

Weather forecast, यहां जानिये आज की मौसम जानकारी कैसा रहेगा आज का मौसम मिजाज. जानिये पूरी जानकारी…

 

पश्चिमी विक्षोभ के चलते पहाड़ों पर हो रही बर्फबारी का असर मैदानी क्षेत्रों में भी देखने को मिलेगा। दिल्ली में सुबह-शाम की ठंड अभी बनी रहेगी।

दिन में धूप निकलने पर राहत मिलेगी, लेकिन तेज हवा चलने पर अधिकतम तापमान में भी ज्यादा बढ़ोत्तरी नहीं होगी।साल 2023 के बनिस्पत मार्च की शुरुआत भी ठंडी रही है। Weather forecast

कमोबेश ऐसा ही मौसम एक हफ्ते तक बना रह सकता है।तेज हवा के साथ दिल्ली में शनिवार को शुरू हुआ हल्की वर्षा का दौर रविवार सुबह भी जारी रहा। कई इलाकों में सुबह वर्षा देखने को मिली।

यही वजह रही कि न्यूनतम तापमान सामान्य स्तर पर 13.7 डिग्री सेल्सियस जबकि अधिकतम तापमान सामान्य से एक डिग्री कम 26.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। मौसम विभाग का पूर्वानुमान है कि पश्चिमी विक्षोभ के असर से इस हफ्ते तापमान में अधिक बदलाव नहीं होगा। Weather forecast

अधिकतम तापमान जहां 26 से 27 डिग्री के आसपास रहेगा वहीं न्यूनतम तापमान 12 डिग्री तक रहने के आसार हैं। वहीं मंगलवार को भी आंशिक रूप से बादल छाए रहेंगे।(Weather Forecast) गर्मी में अभी आज दिन में भी बादल छाए रहेंगे, लेकिन वर्षा होने की संभावना नहीं के बराबर है।

 

Weather forecast, भारी ओलावृष्टि के कारण बर्बाद हुई फसलों की तुरंत स्पेशल गिरदावरी करवाए सरकार: अभय सिंह चौटाला

 

मांग – खराब हुई फसल का 50 हजार रूपए प्रति एकड़ के हिसाब से मुआवजा तुरंत दिया जाए ताकि किसान अपनी आगे आने वाली फसल की तैयारी कर सके

Read More  Happy Card Scheme: हरियाणा मे इन परिवारों की मौज, हैप्पी कार्ड योजना के तहत मिल रहा ये खास लाभ

चंडीगढ़, 3 मार्च। इनेलो के प्रधान महासचिव अभय सिंह चौटाला ने प्रदेश में हुई बारिश और भारी ओलावृष्टि के कारण सिरसा, फतेहाबाद, हिसार, भिवानी, जींद और सोनीपत समेत अन्य जिलों में किसानों की खराब हुई फसल पर गहरा दुख प्रकट करते हुए कहा कि किसान पहले से ही भारी आर्थिक तंगी से गुजर रहा है और अब इस प्राकृतिक आपदा की वजह से किसानों को भारी नुकसान हुआ है और उनकी महीनों की मेहनत पर पूरी तरह से पानी फिर गया है। गेहूं, सरसों, चना, जौ समेत अन्य कई फसलें भारी ओलावृष्टि के कारण तबाह हो गई हैं।

 

अभय सिंह चौटाला ने कहा कि आज अन्नदाता की हालत बहुत चिंताजनक है और भाजपा सरकार की किसान विरोधी नीतियों के कारण खाद, बीज, कीड़े मार दवाईयां, डीजल, कृषि उपकरण और खेत मजदूरी महंगी हो जाने से खेती करना पूरी तरह से घाटे का सौदा बन गया है।

 

आज हालात यह हैं कि देश और प्रदेश के ज्यादातर किसान कर्जे में डूबे हुए हैं। प्रदेश के किसानों की आमदनी के मुकाबले उनका खर्च कहीं अधिक है। किसानों की आय घाटे में चल रही है और किसानों के हालात बद से बदतर होती जा रहे हैं।

 

अभय सिंह चौटाला ने प्रदेश की भाजपा सरकार से किसानों की भारी ओलावृष्टि के कारण बर्बाद हुई फसलों की तुरंत स्पेशल गिरदावरी कराने की मांग करते हुए कहा कि किसानों को उनकी खराब हुई फसल का 50 हजार रूपए प्रति एकड़ के हिसाब से मुआवजा तुरंत दिया जाए ताकि किसान अपनी आगे आने वाली फसल की तैयारी कर सके।

Read More  Weather forecast: हरियाणा के इन जिलों में बारिश का येलो अलर्ट जारी, किसानों की बढ़ी चिंता

 

 

किसानों को तुरंत ओलावृष्टि का मुआवजा दे सरकार : अनुराग ढांडा

उन्होंने कहा कि ओलावृष्टि से प्रदेश के किसानों को भारी नुकसान हुआ है। खट्टर सरकार बिना गिरदावरी किए ही किसानों को मुआवजा राशि जारी करे। प्रदेश में सरसों की फसल पककर कटाई के लिए तैयार खड़ी थी। वहीं गेहूं की फसल में बालियां आ चुकी हैं।

 

किसानों ने 4 महीने से गेहूं और सरसों की फसल को दिन-रात कड़ी मेहनत करके सींचा है। इस बेमौसमी बारिश और भयंकर ओलावृष्टि ने गेहूं, सरसों और सब्जियों का बहुत नुकसान किया है।

 

उन्होंने कहा कि ओलावृष्टि से बर्बाद फसल खेतों में बिछी पड़ी है। किसान की उम्मीदें रबी की फसल पर ही टिकी होती हैं क्योंकि खरीफ की फसल से तो खर्चा भी मुश्किल से निकलता है। इस कारण किसानों को फसल नुकसान की भरपाई नहीं हो पाएगी।

 

वहीं उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री खट्टर का 29 फरवरी तक 29 हजार पदों के नतीजों का वादा एक बार फिर जुमला साबित हुआ। विधानसभा के पटल पर बोली गई बात भी झूठी निकली। प्रदेश की जनता चुनावों में मुख्यमंत्री के झूठे वादों का बदला लेने का काम करेगी।

Raman

Ramandeep Singh village ramgarh sirsa (haryana)

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button