Nitish kumar Chandarbabu Naidu: नीतीश और नायडू को क्या चाहिए

Join WhatsApp Join Group
Like Facebook Page Like Page

Nitish kumar Chandarbabu Naidu: फिर पलटी मारेंगे नीतीश कुमार?

 

Nitish kumar Chandarbabu Naidu:सारे चुनाव नतीजे आने से पहले ही कांग्रेस और दूसरी विपक्षी पार्टियों की ओर से नीतीश कुमार और चंद्रबाबू नायडू पर डोरे डाले जाने लगे।

विपक्ष की ओर से कहा गया कि वे एनडीए के इन दोनों नेताओं से बात करेंगे और उन्हें भाजपा का साथ छोड़ कर विपक्षी गठबंधन के साथ आने के लिए मनाएंगे।

इस बीच जानकार सूत्रों का कहना है कि दोनों पार्टियां बेहतर मोलभाव और सौदेबाजी के विकल्प पर विचार कर रही हैं। जानकार सूत्रों का कहना है कि नीतीश कुमार बिहार छोड़ने के मूड में नहीं हैं। Nitish kumar Chandarbabu Naidu

 

Also Read: Haryana Loksabha Chunav Winner List: हरियाणा में किस सीट पर किसने कितने वोटों से मारी बाज़ी, देखे ताजा रिपोर्ट.

 

अपनी उम्र और सेहत की वजह से वे दिल्ली की राजनीति में किसी तरह की भूमिका नहीं निभाना चाहते हैं। चंद्रबाबू नायडू भी मुख्यमंत्री बनने को ही तरजीह देंगे। हालांकि एक अटकल यह भी थी कि वे अपने बेटे नारा लोकेश को मुख्यमंत्री बना देंगे और खुद दिल्ली में कोई बड़ी भूमिका लेने की कोशिश करेंगे।

Nitish kumar Chandarbabu Naidu: कहा जा रहा है कि वे दोनों गठबंधनों में उप प्रधानमंत्री पद की मांग कर सकते हैं। नीतीश कुमार चाहते हैं कि बिहार विधानसभा का चुनाव जल्दी है।

भाजपा और राजद दोनों को इस पर आपत्ति थी। लेकिन अगर भाजपा जल्दी चुनाव के लिए तैयार हो जाती है तो नीतीश की पहली पसंद भाजपा ही होगी।

Read More  अशोक तंवर को टिकट मिलना उनकी मजबूती बनी

लोकसभा चुनाव में जिस तरह से उनकी पार्टी ने प्रदर्शन किया है उसके बाद उनकी पार्टी के नेताओं को लग रहा है कि इस गठबंधन में रहते हुए विधानसभा चुनाव हुए तो फिर से जदयू 70 या 80 सीटों का पुराना आंकड़ा हासिल कर सकती है। Nitish kumar Chandarbabu Naidu

इसके अलावा वे बिहार के लिए विशेष राज्य के दर्जे की मांग कर रहे हैं। यही मांग आंध्र प्रदेश की भी है। क्या भाजपा इनका समर्थन देने के लिए इस मांग पर विचार करेगी?

पुराने फॉर्मूले में टीडीपी ने अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार के समय अपना स्पीकर बनाया था। क्या इस बार भी ऐसी कोई मांग हो सकती है?

इससे पहले नरेंद्र मोदी ने टके सेर भाजी, टके सेर खाजा का हिसाब बनाया था और कहा था कि हर सहयोगी पार्टी से सिर्फ एक मंत्री बनेगा, चाहे उसके कितने भी सांसद हों।

Nitish kumar Chandarbabu Naidu: इसी वजह से नीतीश कुमार ने पहले सरकार में शामिल होने से इनकार किया था। लेकिन इस बार ऐसा कोई फॉर्मूला काम नहीं करेगा।

टीडीपी और जनता दल यू दोनों को अपने सांसदों की संख्या के हिसाब से मंत्री पद और मंत्रालय चाहिए होगा। कुल मिला कर कहा जा सकता है कि दोनों पार्टियां बेहतर डील का इंतजार करेंगी। Nitish kumar Chandarbabu Naidu

Nitish kumar Chandarbabu Naidu: JDU ने 16 सीटों पर लड़ा चुनाव

बिहार में लोकसभा की कुल 40 सीट है। राज्य में जेडीयू की संभावनाओं के बारे में पूछे जाने पर त्यागी ने कहा कि मतगणना जारी है और उनकी पार्टी ‘‘बिहार में 16 में 13 सीट पर बढ़त बनाये हुए है।’’ जेडीयू ने 16 सीटों पर चुनाव लड़ा है। अभी तक आए रुझानों पर उन्होंने कहा, ‘‘लोगों का फैसला सर्वोपरि है।

Read More  Election 2024: भाजपा सरकार द्वारा आचार संहिता की सरेआम उड़ाई जा रही हैं धज्जियां?

नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में तीसरी बार राजग की सरकार बनेगी। जनता के सभी फैसलों का हम आदर और सत्कार करते हैं।’’ उत्तर प्रदेश में मतगणना के रुझानों के बारे में पूछे जाने पर त्यागी ने कहा, ‘‘इस बार उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी की सोशल इंजीनियरिंग, ‘बूथ केमिस्ट्री’ बदल गई है। यह उसी का नतीजा है।’’

Nitish kumar Chandarbabu Naidu: ‘PM मोदी निमंत्रण भेजेंगे तो नीतीश कुमार सकारात्मक जवाब देंगे’

त्यागी ने कहा, ‘‘आज हम राजग में दूसरे नंबर की पार्टी हैं। हम दूसरे नंबर पर हैं।’’ उन्होंने कहा कि अगर प्रधानमंत्री (नरेन्द्र मोदी) चाहेंगे और निमंत्रण भेजेंगे तो हमारे नेता नीतीश कुमार सकारात्मक जवाब देंगे।’’

त्यागी से जब पूछा गया कि क्या भाजपा का प्रदर्शन उम्मीदों से कम रहा है, उन्होंने कहा, ‘‘अगर यह (मोदी का) करिश्मा नहीं होता, तो भाजपा को इतनी सीट कैसे मिलती।’’ उन्होंने कहा, ‘‘लेकिन, भाजपा और हम सभी को बैठकर चर्चा करनी चाहिए।’’

Raman

Ramandeep Singh village ramgarh sirsa (haryana)

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button