Arvind Kejriwal Arrest: शराब नीति घोटाले मामले में गिरफ्तार हुवे लोगों की सूची

Join WhatsApp Join Group
Like Facebook Page Like Page

Arvind Kejriwal Arrest: शराब नीति घोटाले मामले में ED अब तक 16 आरोपियों को गिरफ़्तार कर चुकी है.

 

Arvind Kejriwal Arrest: गिरफ़्तार आरोपियों के नाम…अरविंद केजरीवाल पहले ऐसे मुख्यमंत्री, जिन्हें पद पर रहते हुए ईडी ने किया गिरफ्तार

 

– 1: विजय नायर

– 2: अभिषेक बोइनपल्ली

– 3: समीर महेंद्रू

– 4: पी सरथ चंद्रा

– 5: बिनोय बाबू

– 6: अमित अरोड़ा

– 7: गौतम मल्होत्रा

– 8: राघव मंगुटा

– 9: राजेश जोशी

– 10: अमन ढाल

– 11: अरूण पिल्लई

– 12: मनीष सिसोदिया

– 13: दिनेश अरोड़ा

– 14: संजय सिंह

– 15: के. कविता

– 16.अरविंद केजरीवाल,

 

Arvind Kejriwal Arrest: गिरफ्तारी से पहले तैयार था केजरीवाल का प्लान B

 

Arvind Kejriwal Arrest: जेल में रहना पड़ा तो वहीं से सरकार चलाएंगे, सीनियर मंत्री को CM के अधिकार देंगे

 

Arvind Kejriwal Arrest: मनीष सिसोदिया, संजय सिंह और अब अरविंद केजरीवाल, शराब घोटाले में आम आदमी के तीन बड़े नेता अरेस्ट कर लिए गए। केजरीवाल की गिरफ्तारी के बाद सबसे बड़ा सवाल है कि दिल्ली की सरकार कैसे चलेगी। क्या केजरीवाल मुख्यमंत्री पद पर रह सकते हैं। पार्टी तो कह रही है कि वे इस्तीफा नहीं देंगे। ऐसा कोई कानून भी नहीं है, जो मुख्यमंत्री को जेल से सरकार चलाने से रोकता हो।

 

आम आदमी पार्टी के सूत्रों के मुताबिक, केजरीवाल को एहसास था कि ED उन्हें गिरफ्तार कर सकती है। इसीलिए उन्होंने पहले से प्लान बी तैयार कर लिया था। अगर इस्तीफा देने की नौबत आई तो एजुकेशन मिनिस्टर आतिशी दिल्ली की सरकार चलाएंगी। इस पर पार्टी के भीतर एक महीने पहले ही बातचीत हो चुकी है। डिप्टी CM रहे मनीष सिसोदिया की गिरफ्तारी के बाद उनके विभाग आतिशी को ही दिए गए थे।

Read More  Bihar News: बिहार में भी उत्तर प्रदेश की तरह चुनावी भूचाल के संकेत

 

दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल की ईडी (Arvind Kejriwal Arrest) गिरफ्तारी पर AAP नेता और दिल्ली के मंत्री सौरभ भारद्वाज ने कहा,

 

“मैं राहुल गांधी, प्रियंका गांधी, एमके स्टालिन, अखिलेश यादव सहित सभी विपक्षी नेताओं को केजरीवाल जी के प्रति दिखाए गए प्यार के लिए धन्यवाद देता हूं। केजरीवाल के साथ जो किया जा रहा है वह अन्याय है। यह एक राजनीतिक पार्टी को ख़त्म करने की कोशिश है।

 

हमारे कानूनी विशेषज्ञ अगली कार्रवाई पर काम कर रहे हैं। हमारे पार्टी कार्यालय को छावनी में बदल दिया गया है, आईटीओ मेट्रो स्टेशन बंद कर दिया गया है…क्या कोई आदर्श आचार संहिता लागू है? चुनाव आयोग क्या कर रहा है?”

 

Breaking news

Breaking news

– हरियाणा एंटी करप्शन ब्यूरो की अम्बाला टीम ने 30 हज़ार रुपये की रिश्वत लेते तहसील कल्याण अधिकारी विकास कुमार को रंगे हाथों किया गिरफ्तार

 

– अनुसूचित जाति एवं पिछड़ा वर्ग लोगों के लिए संचालित सरकारी योजना के तहत मुआवजा की राशि उपलब्ध करवाने की एवज में शिकायतकर्ता से की थी रिश्वत की मांग

 

चंडीगढ़ 21 मार्च । भ्रष्टाचार के खिलाफ लगातार चलाए जा रहे अभियान के तहत आज हरियाणा एंटी करप्शन ब्यूरो की अम्बाला टीम द्वारा कुरुक्षेत्र जिला में कार्यरत तहसील कल्याण अधिकारी विकास कुमार को ₹30000 की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों गिरफ्तार किया गया। इस मामले में आरोपी के खिलाफ अम्बाला के एंटी करप्शन ब्यूरो पुलिस स्टेशन में मामला दर्ज करते हुए उसकी गिरफ्तारी की गई है।

 

Also Read: Weather Update: अब तूफान से गुजरेगा हरियाणा, यूपी…भारी बरसात और हवा के साथ इन इलाकों में अलर्ट जारी

Read More  कांग्रेस और उसके गठबंधन की नजर अब जनता की कमाई और संपत्ति पर: सुभाष बराला

 

इस बारे में जानकारी देते हुए एंटी करप्शन ब्यूरो के प्रवक्ता ने बताया कि एंटी करप्शन ब्यूरो की टीम ने सूचना के आधार पर आरोपी को पकड़ने के लिए जाल बिछाया और उसे रंगे हाथों पकड़ने में बड़ी सफलता हासिल की। आरोपी तहसील कल्याण अधिकारी विकास कुमार द्वारा अनुसूचित जाति एवं पिछड़ा वर्ग के लोगों के कल्याण के लिए चलाई जा रही।

 

सरकारी योजना के तहत मुआवजा राशि उपलब्ध करवाने के बदले में रिश्वत की मांग की गई थी जिसमें से शिकायतकर्ता द्वारा 114000 रुपये की राशि पहले ही आरोपी को रिश्वत के तौर पर दी जा चुकी थी शेष 30000 रुपए की राशि लेते हुए एसीबी की टीम ने उसे रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया। यह पूरी कार्यवाही गवाहों के समक्ष पूरी पारदर्शिता बरतते हुए की गई।

 

Raman

Ramandeep Singh village ramgarh sirsa (haryana)

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button