Sirsa breking: 10 साल से फ़रार, मोस्ट वांटेड, ₹50 हजार रुपए पुलिस का था इनाम..

Join WhatsApp Join Group
Like Facebook Page Like Page

Sirsa breking: जिला की स्पेशल स्टाफ, सिरसा पुलिस ने करीब 10 साल से डकैती के मामले में फरार मोस्ट वांटेड तथा 5 हजार रूपए के इनामी को पंजाब क्षेत्र से काबू किया।

 

Sirsa breking: पकड़ा गया मोस्ट वांटेड हिसार पुलिस का ₹50 हजार रुपए तथा फतेहाबाद पुलिस का 5 हजार रुपए इनामी है।

Sirsa breking
Sirsa breking

Sirsa breking: — जिला की स्पेशल स्टाफ, सिरसा पुलिस ने डकैती के मामले में पिछले करीब 10 साल से फरार चल रहे 5 हजार रुपए के इनामी मोस्ट वांटेड को महत्वपूर्ण सूचना के आधार पर पंजाब क्षेत्र से काबू करने में बड़ी सफलता हासिल की है।

इस संबंध में जानकारी देते हुए जिला की अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक दीप्ति गर्ग ने बताया कि गिरफ्तार किए गए आरोपी संजय पुत्र देवीलाल निवासी गांव फूलका, जिला सिरसा को अदालत में पेश कर चार दिन का रिमांड लिया गया है।

तथा रिमांड अवधि के दौरान आरोपी की निशानदेही पर लूटी गई राशि बरामद की जाएगी तथा इस घटना से जुड़े अन्य पहलुओं के बारे में विस्तार से पूछताछ की जाएगी।

उन्होंने बताया कि स्पेशल स्टाफ के प्रभारी सब इंस्पेक्टर संदीप कुमार के नेतृत्व में पुलिस टीम ने महत्वपूर्ण सूचना के आधार पर कार्रवाई करते हुए मोस्ट वांटेड संजय को काबू किया है।

Sirsa breking: अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक दीप्ति गर्ग ने बताया कि बीती 12 अक्टूबर 2014 को संजय तथा उसके साथियों ने नाथूसरी चौपटा थाना क्षेत्र के गांव गुसांईआना के पेट्रोल पंप पर सेल्समैन से पिस्टल के बल पर 33800 की लूटपाट व डकैती की वारदात को अंजाम दिया था।

Read More  Lok Sabha Elections: भाजपा उम्मीदवारों की गोभी भाजपाई ही खोद रहे?

उन्होंने बताया कि इस घटना के बाकी आरोपियों को पुलिस पहले गिरफ्तार कर चुकी है। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक दीप्ति गर्ग ने बताया कि मोस्ट वांटेड संजय करीब 10 साल से घटना के समय से ही फरार चल रहा था।

Sirsa breking: उन्होंने बताया कि आरोपी को गिरफ्तार करने के लिए जिला पुलिस की ओर से लगातार दबिश दी जा रही थी, परंतु आरोपी लगातार अपने ठिकाने बदल रहा था। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक दीप्ति गर्ग ने बताया मामले कि जांच के दौरान सामने आया है, कि काबू किया गया आरोपी संजय हिसार में लूटपाट तथा डकैती के तीन मामलों में वांटेड है, तथा उसके ऊपर 50 हजार का इनाम रखा हुआ है।

उन्होंने बताया कि फतेहाबाद पुलिस को भी आरोपी संजय लूटपाट, जानलेवा हमला तथा चोरी सहित चार मामलों में वांटेड है, तथा उसके ऊपर 5 हजार रुपए का इनाम रखा हुआ है।

Sirsa breking: उन्होंने बताया कि जांच के दौरान यह भी सामने आया है कि राजस्थान के रावतसर थाना में भी उसके खिलाफ लूटपाट का अभियोग वर्ष 2015 में दर्ज हुआ था, तथा उस मामले में उसके ऊपर 2 हजार का इनाम रखा गया था।

अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक दीप्ति गर्ग ने बताया कि जांच के दौरान सामने आया है कि काबू किया गया आरोपी संजय लूटपाट करने वाले अंतर्राज्यीय ग्रुप का सदस्य है।

Sirsa breking: उन्होंने बताया कि काबू किए गए आरोपी का आपराधिक रिकॉर्ड खंगाला जा रहा है। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ने बताया कि इस संबंध में फतेहाबाद, हिसार तथा राजस्थान की रावतसर पुलिस को भी सूचित कर दिया गया है।

Read More  Lok Sabha Elections: जिला पुलिस ने साथ लगते इन राज्यों की सीमाओं पर बढ़ाई चौकसी!

बने रहे आप हमारी वेबसाइट Esmachar के साथ. आपको हरियाणा ही नहीं बल्कि सभी महत्वपूर्ण सूचनाओं से हम रूबरू कराने के लिए सबसे पहले तयार है. चाहे खबर कोई भी हो. सरकारी योजनाए, क्राइम, Breaking news, viral news, खेतीबाड़ी, स्वास्थ्य.. सभी जानकारियों से जुड़े रहने के लिए हमारे whatsapp ग्रुप को जॉइन जरूर करें.

Raman

Ramandeep Singh village ramgarh sirsa (haryana)

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button