नवीन पटनायक ने आज ओडिशा के मुख्यमंत्री तौर पर पूरे किये 24 वर्ष

Join WhatsApp Join Group
Like Facebook Page Like Page

नवीन पटनायक: सबसे लम्बा मुख्यमंत्री रहने का रिकॉर्ड सिक्किम के पवन चामलिंग के नाम

 

नवीन पटनायक: आज 5 मार्च 2024 ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने इस पद पर निरंतर 24 साल पूरे कर लिए हैं. उन्होंने 5 मार्च 2000 को प्रदेश के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली थी और आज तक वह लगातार इस पद पर आसीन हैं. 77 वर्षीय पटनायक ओडिशा में मान्यता प्राप्त क्षेत्रीय पार्टी बीजू जनता दल (बीजेडी) के अध्यक्ष हैं.

नवीन पटनायक
नवीन पटनायक

नवीन पटनायक: मुख्यमंत्रियों के आधिकारिक आंकड़ों का अध्ययन

पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट एडवोकेट एवं राजनीतिक विश्लेषक हेमंत कुमार ने देश के सभी मुख्यमंत्रियों के आधिकारिक आंकड़ों का अध्ययन करने के बाद कहा कि 5 मार्च की तारीख नवीन के पिता स्वर्गीय बीजू पटनायक (वास्तविक नाम बिजयानंद पटनायक- जन्म 5 मार्च 1916) की जन्म जयंती भी होती है. बीजू पटनायक, जिन्हें राज्य का भूमिपुत्र भी माना जाता है, वह दो बार (पहले 1961-63 और फिर 1990-95) में ओडिशा (तब उड़ीसा) के मुख्यमंत्री भी रहे थे.

 

उन्होंने आगे बताया कि आज की तारीख में भारत देश में केवल एक ही पूर्व मुख्यमंत्री और वह है सिक्किम के पवन कुमार चामलिंग, जिनका कार्यकाल 24 वर्ष और 165 दिन रहा था, देश में सबसे लंबे समय तक निरंतर रहने वाले पूर्व मुख्यमंत्रियों की विशिष्ट सूची में नवीन पटनायक से आगे हैं. स्वर्गीय ज्योति बसु लगातार 23 वर्ष 137 दिन तक पश्चिम बंगाल के मुख्यमंत्री रहे थे.

 

 

नवीन पटनायक: पटनायक का वर्तमान पांचवा कार्यकाल

हेमंत ने बताया कि ओडिशा के मुख्यमंत्री के रूप में पटनायक का वर्तमान पांचवा कार्यकाल मई, 2024 तक है. अगर वह अप्रैल-मई 2024 में होने वाले आगामी ओडिशा विधानसभा आम चुनावों में रिकॉर्ड छठी बार फिर से निर्वाचित होकर मुख्यमंत्री बनते हैं, तो वह सबसे लम्बे समय तक निरंतर मुख्यमंत्री रहने की सूची में पवन चामलिंग से भी आगे निकल जाएंगे. आज तक सिक्किम के पूर्व मुख्यमंत्री चामलिंग को ही देश के किसी राज्य में सबसे लंबे समय तक मुख्यमंत्री रहने का रिकॉर्ड एवं गौरव प्राप्त है.

Read More  पीएम फ्री सोलर पैनल योजना 2024, Free Solar Panel Yojana, Online Apply

 

उन्होंने आगे बताया कि जहां तक देश में उन मुख्यमंत्रियों का सवाल है जिनका कुल कार्यकाल 20 साल से अधिक रहा, हालांकि निरंतर अर्थात लगातार नहीं, ऐसे तीन मुख्यमंत्री रहे हैं.

 

गेगोंग अपांग जो कुल 22 वर्ष और 250 दिनों तक अरुणाचल प्रदेश के सीएम रहे, उनके बाद मिजोरम के ललथनहवला थे, जिनका कुल कार्यकाल 22 वर्ष और 60 दिन रहा और उनके बाद वीरभद्र सिंह थे, जो 21 वर्ष और 13 दिन तक हिमाचल प्रदेश के सीएम रहे थे.

 

उसके बाद ऐसे लम्बे समय तक मुख्यमंत्री रहे व्यक्तियों की सूची में त्रिपुरा के पूर्व सीएम माणिक सरकार का नाम शामिल है, जिनका कुल कार्यकाल 19 वर्ष और 363 दिन था, इसके बाद तमिलनाडु के दिवंगत एम. करुणानिधि का नाम शामिल है, जो कुल मिलाकर चार बार राज्य के सीएम रहे एवं उनका कुल कार्यकाल 18 वर्ष और 362 दिन रहा. इसके बाद प्रकाश सिंह बादल का नाम आता है, जो कुल पांच बार पंजाब के मुख्यमंत्री रहे और उनका कुल कार्यकाल 18 वर्ष 350 दिन रहा था.

 

भारत में वर्तमान मुख्यमंत्रियों में नवीन पटनायक जिनका आज तक 24 वर्षों का निरंतर कार्यकाल है, उनके बाद बिहार के नीतीश कुमार हैं जिनका अब तक का कार्यकाल 17 वर्ष और 197 दिन है. इसके बाद नागालैंड के नेफ्यू रियो का नंबर आता है जिनका कार्यकाल 17 साल 9 दिन का रहा है।

 

Also read, Election 2024, जनता का जोश सत्ता परिवर्तन की ओर इशारा कर रहा है:-कुमारी सैलजा

 

इस सूची में केंद्र शासित प्रदेश पुडुचेरी के वर्तमान सीएम एन. रंगास्वामी का नाम शामिल है, जिनका कार्यकाल 14 वर्ष और 272 दिन है, इसके बाद पश्चिम बंगाल की ममता बनर्जी का नाम है, जिनका कार्यकाल 12 वर्ष और 290 दिन है. हरियाणा के मौजूदा मुख्यमंत्री मनोहर लाल का कार्यकाल आज तक 9 वर्ष 4 महीने से कुछ दिन ऊपर है.

Read More  Phd in JNU: सिरसा के इस गाँव के युवक ने शहीद भगत सिंह विषय पर JNU से लिखी पहली पीएचडी.. जाने क्या है खास

 

नवीन पटनायक: PM का सवाल 

जहां तक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का सवाल है, हेमंत ने बताया कि वह निरंतर 12 साल और 227 दिनों तक यानी 7 अक्टूबर 2001 से 22 मई 2014 तक गुजरात के मुख्यमंत्री रहे थे जिसके बाद उन्होंने 26 मई 2014 को भारत के 14 वें प्रधानमंत्री के रूप में शपथ की थी एवं जिस पद पर वह आज भी पदासीन हैं.

Raman

Ramandeep Singh village ramgarh sirsa (haryana)

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button