लोकसभा चुनाव: धारा 144 लागू होने के बाद अधिकारियों ने हथियार जमा करवाने के दिए आदेश

Join WhatsApp Join Group
Like Facebook Page Like Page

लोकसभा चुनाव:  धारा 144 लागू होने के बाद भी नहीं करवाए हथियार जमा तो होगी कार्रवाई?

 

सिरसा, 18 मार्च।

लोकसभा चुनाव, आगामी 25 मई को लोकसभा चुनाव 2024 के मद्देनजर रखते हुए जिलाधीश आर के सिंह ने भारतीय दंड प्रक्रिया नियमावली 1973 की के अंतर्गत प्रदत: शक्तियों का प्रयोग करते हुए जिला सिरसा में शांति एवं कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए धारा 144 लागू कर दी गई है।

 

उन्होंने आदेशों में कहा है कि इस प्रक्रिया के दौरान किसी कोई भी व्यक्ति को अपने साथ अग्रिय शस्त्र व अन्य प्रकार के हथियार लेकर चलने पर पूर्णतया पाबंदी रहेगी।

 

लोकसभा चुनाव: कहा करवाये हथियार जमा? 

आर्म्स एक्ट 1959 के अनुसार सभी लाइसेंस धारकों को भी आदेश दिए गए है कि वे अपने हथियार अपने नजदीकी पुलिस थानों में अथवा मंजूरशुदा आर्म डीलर के पास जमा करवाए।

 

लोकसभा चुनाव: शांति एवं कानून व्यवस्था बनाए रखनी अति आवश्यक

उन्होंने कहा कि तनाव, परेशानी, साधारण दिनचर्या में बाधा जानमाल की हानि, शांति व्यवधान और दंगे होने की आशंका में सार्वजनिक स्थानों पर शांति एवं कानून व्यवस्था बनाए रखनी अति आवश्यक है। उन्होंने कहा कि इन आदेशों के उल्लंघनकर्ता भारतीय दंड संहिता की धारा 188 के अनुसार दंड के भागीदार होंगे।

 

उन्होंने कहा कि यह आदेश पुलिस विभाग व अन्य सार्वजनिक क्षेत्र में कार्य कर रहे सरकारी अधिकारियों / कर्मचारियों पर जो अपनी ड्यूटी पर तैनात हो उन पर यह नियम लागू नहीं होंगे।

 

 

BREAKING NEWS 

  1. लोकसभा चुनाव
Read More  HTET 2024: HTET आवेदन इस दिन शुरू देखे सम्पूर्ण जानकारी।

ऑनलाइन शॉपिंग के नाम पर साइबर अपराधी कर रहे है ठगी, बचाव के लिए अपनाए सुझाव

 

डबवाली, 18 मार्च: पुलिस अधीक्षक डबवाली श्री सुमेर सिंह ने कहा है कि ऑनलाइन शॉपिंग ने खरीददारी को जहां आसान बना दिया है। वहीं, इसके कई खतरें भी हैं। इनमें सबसे बड़ा खतरा है साइबर फ्रॉड यानी ठगी पुलिस अधीक्षक ने कहा कि अमेजन, फ्लिपकार्ट समेत कई ई कॉमर्स वेबसाइट में डिसकाउन्ट आदि से जुड़े लिंक के मैसेज आते हैं। इन पर क्लिक करते ही आपकी सारी कमाई एक झटके में साफ हो जाती है।

 

इससे बचने के लिए कुछ सुझावों को अपना कर आप ऑनलाइन फ्रॉड से बच सकते हैं। पुलिस अधीक्षक ने कहा है कि कई बार आपको कॉल, टेक्स्ट और ईमेल आएंगे, जिनमें आपको ऑर्डर कन्फर्म या कैंसिल करने के लिए कहा जाएगा।

 

इसके अलावा स्कैमर आपसे आपकी अकाउंट डीटेल्स मांगेगा या फिर आपको गिफ्ट कार्ड खरीदने के लिए सॉफ्टवेयर इंस्टॉल करने के लिए कहा जाएगा। ऐसे लिंक पर बिल्कुल भी क्लिक न करें।

 

न ही आप अपने बैंक खातों से जुड़ी कोई भी डीटेल्स शेयर करें। वहीं, आपने कोई सामान ऑडर नहीं किया है इसके बावजूद आपके पास ऐसे लिंक आ रहे हैं तो आप अपना ई कॉमर्स अकाउंट खोलकर लॉग इन कर सकते हैं। ऑर्डर हिस्ट्री में केवल वही सामान आएंगे, जिन्हें आपने ऑर्डर किया है। उन्होंने बताया कि स्कैमर कई बार फेक वेबसाइट बनाते हैं, जिनमें वह कस्टमर केयर सपोर्ट देने की बात करते हैं।

 

कस्टमर इन फर्जी वेबसाइट के झांसे में आ जाते हैं और स्कैमर की स्कीम में फंस जाते हैं। यदि आपको प्रोडक्ट से जुड़ी कोई समस्या है या फिर किसी स्कीम से जुड़ी जानकारी चाहते हैं तो आप ई कॉमर्स वेबसाइट के हेल्प सेक्शन को विजिट करें।

Read More  Cm Kejriwal viral video: जेल जाने से पहले केजरीवाल ने दिल्लीवालों के लिए भेजा भावपूर्ण संदेश

 

Also read : लोकसभा चुनाव: कांग्रेस में शामिल होने के बावजूद लोकसभा रिकॉर्ड में हिसार से बृजेन्द्र सिंह भाजपा सांसद

 

वहीं, आप यदि सर्च इंजन इस्तेमाल करते हैं तो सोच समझकर इनका इस्तेमाल करें। कई बार सर्च इंजन के जरिए आप फर्जी वेबसाइट में जा सकते हैं, जिससे आगे मुसीबत में फंस सकते हैं।

 

बने रहे आप हमारी वेबसाइट Esmachar के साथ. आपको हरियाणा ही नहीं बल्कि सभी महत्वपूर्ण सूचनाओं से हम रूबरू कराने के लिए सबसे पहले तयार है. चाहे खबर कोई भी हो. सरकारी योजनाए, क्राइम, Breaking news, viral news, खेतीबाड़ी, स्वास्थ्य.. सभी जानकारियों से जुड़े रहने के लिए हमारे whatsapp ग्रुप को जॉइन जरूर करें.

Raman

Ramandeep Singh village ramgarh sirsa (haryana)

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button