UGC-NET, NET परीक्षाओं में आए घोटालों में कैबिनेट शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान के इस्तीफे पर फसी गरारी?

Join WhatsApp Join Group
Like Facebook Page Like Page

UGC-NET और NET की परीक्षाओं में सामने आए घोटालों में कैबिनेट शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान के इस्तीफे पर अड़ा है विपक्ष।

 

UGC-NET: जयंत चौधरी के समर्थकों में भी चर्चा है कि शिक्षा विभाग में राज्यमंत्री बनते ही NEET जैसा बड़ा घोटाला सामने आ गया। उसके बाद कल पेपर लीक की आशंका के चलते NET की परीक्षा भी रद्द करनी पड़ी।

अब जयंत के समर्थकों को चिंता सता रही है कि आगामी संसद सत्र में विपक्ष के विरोध से बचने के लिए इन घोटालों का ठीकरा कहीं प्रधान के साथ साथ जयंत के ऊपर भी न फोड़ दे सरकार। जयंत को मंत्री बनाने का विरोध यूपी के जाट नेता पहले ही कर रहे हैं।

UGC-NET: नीट परीक्षा में कथित धांधली को लेकर हो रहे विरोध प्रदर्शन के बीच केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने कहा है कि सरकार छात्रों के हितों की रक्षा के लिए प्रतिबद्ध है और पारदर्शिता से कोई समझौता नहीं किया जाएगा.

UGC-NET: शिक्षा मंत्री ने कहा है कि सरकार त्रुटीपूर्ण परीक्षा कराने के लिए प्रतिबद्ध है और सरकार किसी भी ग़ुनाहगार को छोड़ेगी नहीं.

केंद्रीय शिक्षा मंत्री ने बताया है कि पूरे मामले की जांच के लिए उच्च स्तरीय समिति गठित की जा रही है

धर्मेंद्र प्रधान ने कहा कि परीक्षा को लेकर पटना से भी जानकारियां आई हैं. पुख़्ता जानकारियों पर दोषियों के ख़िलाफ़ कार्रवाई होगी.

उन्होंने ये भी कहा कि मामले में अधिक जानकारियां जल्द मिल जाएंगी.

शिक्षा मंत्री ने कहा है कि “हम इस नतीजे पर पहुंचे हैं कि ये सवाल लीक होने का मामला है. मैं नैतिक जिम्मेदारी लेता हूं, देश के भविष्य को सुरक्षित करना होगा, पारदर्शिता और गुणवत्ता को बरक़रार रखना होगा.”

बिहार पुलिस की जांच में सामने आया है कि कुछ अभ्यर्थियों को परीक्षा से पहले ही पेपर के सवाल मिल गए थे.

UGC-NET: शिक्षा मंत्री ने कहा, “बिहार सरकार और भारत सरकार के बीच समन्वय था, कुछ विसंगतियां हमारे ध्यान में आई हैं, सारी प्रक्रिया पूरी होने के बाद जो भी ज़िम्मेदार होगा, उसे छोड़ा नहीं जाएगा. बिहार पुलिस इस मामले में जांच को और आगे बढ़ा रही है, उसे पूरा हो जाने दिया जाए.”

 

Also Read: Haryana News: अरविंद केजरीवाल को जमानत मिलने पर प्रदेश के इस वरिष्ठ नेता का बड़ा बयान

 

उन्होंने कहा, “एक दुर्भाग्यपूर्ण घटना हुई है, हम चुनौतीपूर्ण समय से गुज़र रहे हैं, मेरे मन में देश के विद्यार्थियों का हित प्राथमिकता है, मैं जिम्मेदारी के साथ आश्वस्त करता हूं कि धीरे-धीरे समय के हिसाब से सब स्पष्ट हो जाएगा. सरकार की मंशा स्पष्ट है, भारत को आगे ले जाने के लिए हमारी युवा शक्ति ही माध्यम है, उन्हें कोई असुविधा जाने-अनजाने में हो हम नहीं चाहेंगे.”

हालांकि, उन्होंने (UGC-NET) नीट परीक्षा दोबारा आयोजित किए जाने से जुड़े सवालों का स्पष्ट जवाब नहीं दिया.

बिहार के उप विजय सिन्हा मुख्यमंत्री ने बिहार में कथित पेपर लीक में राष्ट्रीय जनता दल नेता तेजस्वी यादव के क़रीबी लोगों के शामिल होने का दावा किया है. हालांकि शिक्षा मंत्री ने इस पर भी कोई टिप्पणी नहीं की.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button