Hemant Soren को समझना चाहिए कि कुर्सी का मोह ज़्यादा ठीक नहीं।

Join WhatsApp Join Group
Like Facebook Page Like Page

Hemant Soren  जब जेल गए थे तब उन्होंने मुख्यमंत्री पद से इस्तीफ़ा दे दिया था और तब उनके स्थान पर चंपई सोरेन को झारखंड का मुख्यमंत्री बनाया गया था।

 

आज चंपई सोरेन ने इस्तीफ़ा दे दिया है और अब हेमंत सोरेन दोबारा झारखंड के मुख्यमंत्री बनने वाले हैं।

 

दरअसल अगले 2-3 महीनों में ही झारखंड में चुनाव होने वाले हैं ऐसे में हेमंत सोरेन का सबसे बढ़िया निर्णय यह होता कि

वह चंपई सोरेन को ही मुख्यमंत्री बना रहने देते और यदि दोबारा सरकार बनाने में कामयाब होते तो फिर से ख़ुद मुख्यमंत्री बन जाते।

लेकिन हेमंत सोरेन अब जो कर रहे हैं इससे पार्टी में मनमुटाव के साथ साथ उनके प्रति जनता में भी नेगेटिव इमेज बनेगी।

Hemant Soren  को अगले चार महिनों केलिए CM बनने की जल्दी नहीं करनी चाहिए.

अगर hemant Soren का दोबारा सीएम बनने की कोशिश करते हैं तो झारखण्ड में इसका गलत मैसेज जायेगा.

बखूबी उनके भाई अच्छा काम कर रहे हैं.उनका सपोर्ट करना चाहिए और बीजेपी को राज्य से पूर्ण रूप के बाहर करने की कोशिश करनी चाहिए

 

Also Read: Haryana News: राज्य स्तरीय सरपंच सम्मेलन में मुख्यमंत्री नायब सिंह की बड़ी घोषणा 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button