Haryana Big Breaking: दुष्यन्त चौटाला ने कॉंग्रेस का साथ देने का एलान किया लेकिन लगा दी ये शर्त

Join WhatsApp Join Group
Like Facebook Page Like Page

Haryana Big Breaking: हरियाणा राज्यसभा चुनाव: JJP कांग्रेस का समर्थन करने को तैयार, रखी ये शर्त

 

✒️✒️Ld Swami

हरियाणा के पूर्व डिप्टी-सीएम और जेजेपी नेता दुष्यंत चौटाला राज्यसभा की एक सीट पर कांग्रेस को समर्थन देने को तैयार हैं.

उन्होंने कहा कि अगर कांग्रेस प्रदेश के किसी प्रतिष्ठित व्यक्ति, कॉमनवेल्थ या ओलंपिक स्वर्ण पदक विजेता खिलाड़ी को संयुक्त उम्मीदवार बनाए तो हम समर्थन देने को तैयार हैं.

 

Haryana Big Breaking: दुष्यंत चौटाला ने हरियाणा की राज्यसभा सीट के चुनाव को लेकर बड़ा ऐलान

कांग्रेस को समर्थन देने को तैयार अगर प्रदेश के किसी प्रतिष्ठित व्यक्ति, या कॉमनवेल्थ, ओलंपिक स्वर्ण पदक विजेता खिलाड़ी को संयुक्त उम्मीदवार बनाए तो हम समर्थन देने को तैयार हैं: दुष्यंत चौटाला

 

Haryana Big Breaking: चौटाला ने हिसार में संवाददाताओं से कहा, 

‘मैं विपक्ष के नेता भूपेंद्र सिंह हुड्डा को बताना चाहता हूं कि विधानसभा में मौजूदा संख्या को देखते हुए अगर इस सरकार को (लोकसभा) चुनाव के दौरान गिराने के लिए कोई कदम उठाया जाता है तो हम इसमें बाहर से उनका समर्थन करने पर पूरी तरह विचार करेंगे.” उन्होंने कहा, ‘‘अब कांग्रेस को सोचना है कि वह भाजपा सरकार को गिराने के लिए कदम उठाती है या नहीं.”

 

Haryana Big Breaking: सरकार बहुमत खो चुकी

उन्होंने कहा कि सरकार बहुमत खो चुकी है और या तो मुख्यमंत्री बहुमत साबित करें या नैतिक आधार पर इस्तीफा दे दें. भाजपा से गठजोड़ समाप्त होने के बाद उसका समर्थन करने की किसी भी तरह की संभावना को खारिज करते हुए चौटाला ने कहा, ‘‘मैंने बिल्कुल साफ कर दिया है कि जजपा अब भाजपा के साथ नहीं जाएगी.”

 

Haryana Big Breaking: कुछ जजपा विधायकों के भाजपा को समर्थन देने का संकेत

चौटाला ने कहा कि उनमें से तीन को नोटिस जारी किया गया है और उन्हें जवाब देने को कहा गया है. उन्होंने कहा, ‘‘तीन विधायकों को नोटिस जारी किए गए हैं लेकिन उन्होंने अब तक जवाब नहीं दिया है. पार्टी उचित कार्रवाई करेगी.”

 

Haryana Big Breaking: चौटाला ने कहा कि उनके पार्टी विधायक व्हिप से बंधे

यदि कोई किसी और को समर्थन देना चाहता है तो पहले उसे इस्तीफा देना पड़ेगा. उन्होंने कहा, ‘‘अगर कोई पार्टी विरोधी गतिविधि में शामिल रहता है तो उसके लिए कानून है.”

जजपा ने 2019 के विधानसभा चुनाव में 10 सीट जीती थीं, वहीं भाजपा ने 40 सीटों पर जीत प्राप्त की थी. दोनों दलों ने मिलकर हरियाणा में गठबंधन सरकार बनाई थी. हालांकि, भाजपा ने दो महीने पहले जजपा से संबंध तोड़ लिए थे.

Also Read: Haryana News: हरियाणा मे अनोखी पहल गांवों में कच्छा पहनकर घूमने वालों पर होगी कानूनी कार्यवाही।

Related Articles

Back to top button